पुल्लेला गोपीचंद | Pullela Gopichand in Hindi Biography

Pullela Gopichand Photograph

PV Sindhu Krishna Pullela Gopichand Saina Nehwal Together In Badminton Academy Photograph

Pullela Gopichand Biography in Hindi

नाम : पुल्लेला गोपीचंद
व्यवसाय / पद : मुख्य कोच , इन्डियन बैडमिंटन टीम
जन्म स्थान : नागंदला, प्रकाशम्, आंध्र प्रदेश, भारत
जन्म तिथि : 16 नवम्बर 1973
वर्तमान निवास : हैदराबाद तेलंगाना

Like our website on Facebook


Advertisements

More about Pullela Gopichand, Former Indian Badminton Player, Rio 2016 Olympics Coach Badminton team

आपने रियो ओलंपिक 2016 खेलो में पीवी सिंधू का नाम तो सुना ही होगा। उनके गुरु यानि कोच हैं पुल्लेला गोपीचंद। और पुल्लेला जी की शख्सियत इससे कहीं अधिक है।
पुल्लेला गोपीचंद भुतपुर्व भारतीय बैडमिंटन खिलाडी रहे और इस समय इन्डियन बैडमिंटन टीम के मुख्य कोच हैं। वो दूसरे ऐसे भारतीय हैं जिन्होंने आल इंग्लैंड ओपन बैडमिंटन चैंपियनशिप जीत रखी है। पहले भारतीय प्रकाश पादुकोण हैं। पुल्लेला इस समय गोपीचन्द बैंडमिंटन अकादमी(Gopichand Badminton Academy) चला रहे हैं।
ये वही अकादमी है जिसने भारत को साइना नेहवाल , पीवी सिंधु , पारुपल्ली कश्यप, श्रीकांथ किदाम्बी, अरुंधति पंटावने, गुरुसाई दत्त और अरुणविष्णु जैसे अच्छे बैडमिंटन प्लेयर दिए। इन्ही बातों के मद्देनज़र पुल्लेला 2016 रियो ओलंपिक खेलों में भारतीय बैडमिंटन टीम के आधिकारिक कोच रहे।
सन 1998 में पुल्लेला ने कुआलालमपुर में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में पुरुष एकल बैडमिंटन प्रतियोगिता में कांस्य पदक (ब्रोंज ) जीत तथा साथ ही बैडमिंटन टीम प्रतियोगिता में रजत पदक (सिल्वर ) जीता।

1999 में पुल्लेला को उनके योगदान के लिए अर्जुन पुरस्कार से नवाजा गया। 2001 में राजीव गाँधी खेल रत्न और फिर 2009 में द्रोणाचार्य अवॉर्ड से नवाजा गया। 2014 में पुल्लेला को पदम् भूषण मिला जोकि तृतीय उच्चतम नागरिक सम्मान है।

पुल्लेला गोपीचंद ने साथी बैडमिंटन खिलाडी पीवीवी लक्ष्मी से 2002 में विवाह किया। और उनके दोनों बच्चे गायत्री और विष्णु बैडमिंटन से जुड़े हुए हैं। गायत्री अंडर 13 बैडमिंटन चैंपियन है।

ये पोस्ट परीक्षाओं को ध्यान में रखकर लिखी गयी है। अच्छी लगी हो तो शेयर जरूर करें।


GK in Hindi Quiz 205|GK in Hindi


For More GK in Hindi Quiz


Share it if you liked it
Facebook Twitter Google

Advertisements

Advertisements

Copyright© 2015-2017 SSChelp.in Powered by dataNcode | Disclaimer and Terms

Contact Us Mail Us